ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश कोविड-19/देश-विदेश मनोरंजन/लाइफस्टाइल
अचानक निरीक्षण को पहुंचे बीएसए ने अनुपस्थित डेढ़ दर्जन से अधिक अध्यापकों का वेतन काटने का दिया निर्देश, मचा हड़कंप
August 18, 2020 • इबरार अली • वाराणसी-चंदौली

बेसिक शिक्षा अधिकारी ने किया विद्यालयों का निरीक्षण



जनसंदेश न्यूज़
शहाबगंज/चंदौली। बेसिक शिक्षा अधिकारी भोलेन्द्र सिंह ने मंगलवार को प्राथमिक विद्यालय सारिंगपुर, प्राथमिक विद्यालय शहाबगंज, प्राथमिक व पूर्व माध्यमिक विद्यालय अमांव का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान लगभग डेढ़ दर्जन अध्यापक अनुपस्थित पाए जाने पर बेसिक शिक्षा अधिकारी की भृकुटि तन गयी और सभी अनुपस्थित अध्यापकों व शिक्षा मित्रों का वेतन काटने का निर्देश दिया। 

निरीक्षण के दौरान पूर्व माध्यमिक विद्यालय अमांव में खेलकूद का सामान व किताब बच्चों का यूनिफॉर्म चेकिंग की, विद्यालय में साफ-सफाई न होने तथा टूटी-फूटी खिड़की-दरवाजा को देखकर बीएसए ने नाराजगी जताई। वहीं उपस्थिति रजिस्टर चेक करने पर सहायक अध्यापिका पूनम गुप्ता, सहायक अध्यापक इंद्रपाल, अनुदेशक दीपक सिंह, जितेंद्र सिंह अनुपस्थित मिले। 
इसके बाद बेसिक शिक्षा अधिकारी प्राथमिक विद्यालय अमांव पहुंचे तो यहां भी गंदगी देख नाराजगी व्यक्त की। इस विद्यालय में भी प्रधानाध्यापक कमलेश पाण्डेय, शिक्षामित्र ममता यादव व गुलाम अहमद अनुपस्थित मिले। प्राथमिक  विद्यालय सारिंगपुर में सहायक अध्यापक कुसुम, प्रदीप यादव, विनोद यादव शिक्षा मित्र विजय, वंदना, किरन प्रभा व उषा त्रिपाठी अनुपस्थित मिलीं।

वहीं प्राथमिक विद्यालय शहाबगंज में सहायक अध्यापक जगदीश वर्मा, विशाल सिंह, शिक्षा मित्र चन्दन श्रीवास्तव, मालती व कंचन अनुपस्थित पायी गयीं। बड़ी संख्या में 19 अध्यापकों के अनुपस्थित पाए जाने पर बेसिक शिक्षा अधिकारी भोलेन्द्र सिंह ने सभी का अनुपस्थिति दिवस का वेतन व मानदेय काटने का निर्देश दिया। बेसिक शिक्षा अधिकारी के निरीक्षण से अध्यापकों में हड़कम्प मच गया।