ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
100 दिनों बाद खुला मां विंध्यवासिनी दरबार, डीएम-एसपी ने लाइन में खड़े होकर किया दर्शन
June 28, 2020 • संजय दूबे • पूूर्वांचल



जनसंदेश न्यूज़
मीरजापुर। कोविड-19 के चलते 20 मार्च से बन्द पड़ा माँ विन्ध्यवासिनी दरबार 100 दिनों बाद खोला गया। जहां पारिवाल की अग्रणी भूमिका में नगर विधायक रत्नाकर मिश्र रहे, तो जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल व पुलिस अधीक्षक डॉ धरमवीर सिंह को गर्भगृह से मां का दर्शन करने वाले सर्वांगीण दर्शनार्थी होने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। हालांकि पूर्ण रूप से श्रद्धालुओं का प्रवेश सोमवार से होना सुनिश्चित हुआ है। 
सुबह सवा ग्यारह बजे के करीब जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक मन्दिर पहुंचे तो उनके आगवानी के लिए पण्डा समाज पहले से ही तैयार था। उक्त लोगों को साथ लेकर प्रथम प्रवेश द्वार पहुंचकर पण्डा समाज के अध्यक्ष, मंत्री ने गर्भगृह का ताला खोलकर सभी को प्रवेश कराया। अधिकारियों ने चरण स्पर्श न करके कटघरे के बाहर से ही मां का चरण दर्शन किया। इसके बाद मन्दिर प्रांगण में चल रहे एक दिवसीय अखण्ड कीर्तन में समस्त लोगों ने कुछ पल बैठकर जय मां दुर्गा, जय मां तारा, दयामयी कल्याण करो का उच्चारण किया। पण्डा समाज के अध्यक्ष पंकज द्विवेदी ने समस्त अधिकारियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया। डीएम, एसपी के अलावा एडीएम यूपी सिंह, नोडल अधिकारी सुरेंद्र प्रसाद सिंह, नगर मजिस्ट्रेट जगदम्बा सिंह पटेल, सीएमओ ओपी तिवारी इत्यादि लोग मौजूद रहे।