ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली मीरजापुर-सोनभद्र-भदोही जौनपुर-गाजीपुर आजमगढ़-मऊ बलिया इलाहाबाद देश-विदेश करोना वायरस मनोरंजन/लाइफस्टाइल
 हरियाणा से बिहार ले जाई जा रही 270 पेटी अंग्रेजी शराब बरामद, तमंचा-कारतूस के साथ तस्कर चालक गिरफ्तार
July 17, 2020 • संतोष कुमार दुबे • वाराणसी-चंदौली
 
जनसंदेश न्यूज
मिर्जामुराद। डीसीएम पर फर्जी नंबर प्लेट लगा ‘लाई’ की बोरियों के बीच छिपाकर हरियाणा से तस्करी के लिए बिहार ले जायी जा रही 270 पेटी अवैध अंग्रेजी शराब गुरुवार की रात इलाकाई पुलिस ने बरामद की है। साथ ही तस्कर चालक को तमंचा-कारतूस के साथ गिरफ्तार भी कर लिया गया है।
थाना प्रभारी सुनील दत्त दुबे को गुरुवार की रात मुखबिर से सूचना मिली कि फर्जी नंबर प्लेट लगाकर एक डीसीएम में हरियाणा से तस्करी कर अंग्रेजी शराब बिहार ले जाया जा रहा है। पक्की सूचना पर उन्होंने अपने सहयोगियों के साथ तत्काल हाईवे पर चेकिंग शुरू कर दिया। देर रात करीब एक बजे वह डीसीएम आती हुई दिखी, जिसके बारे में मुखबिर ने बताया था। इस पर मिर्जामुराद बाजार में जाम लगाकर डीसीएम को रोका तो चालक उतर कर भागने लगा। लेकिन पुलिस ने उसे दौड़ा कर पकड़ लिया। पकड़ा गया चालक अमृतपाल सिंह पंजाब के कपूरथला जिले के सिद्धावा-भोलाट का रहने वाला बताया जाता है। वाहन व चालक को थाने पर लाया गया। वाहन की चेकिंग करायी गयी तो ‘लाई’ की बोरियों के बीच में 270 पेटी में 4680 बोतल अंग्रेजी शराब मिला, जो हरियाणा में बनी थी। चालक की तलाशी में 22500 रुपये नकद के अलावा एक तमंचा व दो जिंदा कारतूस बरामद हुआ। चालक के खिलाफ धारा 419, 420, 467, 468, 471, 60/ 72 आबकारी एक्ट एवं 3/25 आर्म एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर उसे शुक्रवार को जेल भेज दिया गया। थाना प्रभारी सुनील दत्त दुबे ने बताया कि चालक गाड़ी पर फर्जी नंबर प्लेट लगाकर तस्करी करता है। बरामद शराब की कीमत लगभग 25 लाख रुपये आंकी गई है। पुलिस टीम में उप निरीक्षक रामप्रवेश गौतम, कांस्टेबल गजेंद्र यादव, सूरज कनौजिया, मुकेश प्रसाद आदि शामिल रहे।
चालक को मिलता है एक लाख
शराब तस्करों द्वारा चालक को एक खेप का माल मंजिल तक पहुंचाने के एवज में एक लाख रुपये दिया जाता है। इस बात का खुलासा स्वयं चालक ने किया। उसने बताया कि हम लोगों की बात नेट के वाइस कॉल से और वाट्सएप से फोटो के जरिए होती है। चालक के पास से मिले एक मोबाइल से यह राज खुला। चालक ने बताया कि एक लाख में ही रास्ते का खर्च व डीजल भी रहता है।