ALL जनसंदेश एक्सक्लूसिव वाराणसी-चंदौली पूूर्वांचल इलाहाबाद लखनऊ कानपुर-गोरखपुर आगरा देश-विदेश सृजन मनोरंजन/लाइफस्टाइल
‘बाबू घर में अकेला है, जल्दी आ जाना....’ नौ माह के बच्चे को सोता छोड़ पति-पत्नी ने लगा ली फांसी
June 26, 2020 • जनसंदेश न्यूज • देश-विदेश


जनसंदेश न्यूज़
लखनऊ। यूपी के गाजियाबाद में एक दिल को दहलाने वाली घटना सामने आई है। जहां अपने नौ माह के बच्चे को घर में सोता छोड़ कर पति-पत्नी ने फांसी लगाकर जान दे दी। मरने से पहले उसने अपनी बहन को मैसेज किया था, ‘बाबू घर में अकेला है, जल्दी आ जाना।’ मैसेज मिलने पर बहन ने अपनी सहेली को उसके घर भेजा, जहां दोनों को फंदे से लटकता देख सन्न रह गई। उसने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
सूचना के मुताबिक गाजियाबाद के इंदिरापुरम के ज्ञानखंड 1 के प्लाट नंबर 328 में निखिल अपनी पत्नी पल्लवी व नौ माह के बेटे के साथ रहते थे। वें नोएडा की एक निजी कंपनी में काम करते थे। शुक्रवार निखिल ने पत्नी के मोबाइल से उसकी बहन अंजलि को मैसेज किया कि बाबू घर में अकेला है, छह बजे तक पहुंच जाये। 
मैसेज प्राप्त होने के बाद अंजलि को कुछ समझ नहीं आया। तो उसने उसकी इलाके में रहने वाली अपनी सहेली को उसके घर भेजा। घर में पहुंचते ही अंजलि की सहेली अंदर का नजारा देख सन्न रह गई। जहां घर में नौ माह के बच्चे को सोता छोड़कर पति-पत्नी ने अलग-अलग कमरे में फांसी लगा ली थी। 
उसने तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी। जहां मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस के मुताबिक घर से अभी तक कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। मासूम को उसके परिजन अपने साथ लेकर चले गये।